India China Clash: प्रधानमंत्री मोदी की चीन को दो टूक, भ्रम में ना रहें, मिलेगा मुंहतोड़ जवाब

0
335
pm modi on china

भारत और चीन ( India China Clash ) सैनिकों के बीच लद्दाख की जलवायु घाटी में हुई झड़प के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि मैं देश को भरोसा दिलाना चाहता हूं, कि हमारे जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। हमारे लिए भारत की अखंडता और संप्रभुता सबसे ऊपर है और इसकी रक्षा करने के लिए हम किसी भी कदम तक जा सकते हैं।

भारत शांति चाहता है लेकिन भारत को उकसाने पर हर हाल में मुंहतोड़ जवाब देने में हम सक्षम हैं। इस बारे में किसी को भी भ्रम या संदेह नहीं होना चाहिए।

आज हुई मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर बातचीत करने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संक्षिप्त संबोधन में कहा कि हमने हमेशा सहयोग और दोस्ताना तरीके से ही काम लिया है। और हमेशा विश्व कल्याण की कामना की है। जहां तक मतभेद थे वहां भी हमने हमेशा यही कोशिश की है, कि वह विवाद में कभी ना बदले। भारत हर हाल में शांति का पक्षधर रहा है। भारत हमेशा से ही शांति चाहता आया है। लेकिन उकसाने पर हम मुंहतोड़ जवाब देने के लिए भी तैयार हैं। हम कभी किसी को उकसाते नहीं है। लेकिन हम अपने देश की अखंडता और संप्रभुता से समझौता भी नहीं कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी जी ने आगे कहा कि हम किसी के उकसाने पर उसे उचित जवाब देना अच्छी तरह से जानते हैं। हर मौके पर हम अपने शौर्य का प्रदर्शन करना अच्छे से जानते हैं। हमेशा से वक्त पड़ने पर हम अपनी क्षमताओं को साबित करते आए हैं। त्याग हमारे राष्ट्रीय चरित्र का हिस्सा है।

साथ ही मैं देश को यकीन दिलाना चाहता हूं कि हमारे जवानों का यह बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। शहीद वीर जवानों के विषय में देश को इस बात का गर्व होगा कि वह मारते मारते मरे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी जी ने शहीदों के प्रति शोक और संवेदना व्यक्त की उनके परिजनों को भरोसा दिलाया कि पूरा देश उनके साथ है। भारत अपने स्वाभिमान और हर 1 इंच जमीन की रक्षा करेगा। यह संक्षिप्त संबोधन के बाद पीएम मोदी गृहमंत्री अमित शाह और अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री ने लद्दाख बॉर्डर पर शहीद जवानों के लिए 2 मिनट का मौन रखकर वीर सपूतों को श्रद्धांजलि भी दी। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 जून को इस मसले पर सर्वदलीय बैठक भी बुलाई है।

प्रधानमंत्री मोदी जी ने कहा कि हमने हमेशा से ही पूरी मानवता के विकास और कल्याण की कामना की है। हर देशवासी को हमारे वीर सपूतों की शहादत पर गर्व है। इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीनी सेना के साथ हिंसक झड़प में शहीद हुए भारतीय जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा था कि गलवान घाटी में सैनिकों को गवाना बहुत परेशान करने वाला और दुखद है। रक्षा मंत्री ने ट्वीट कर कहा था कि भारतीय जवानों ने कर्तव्य का पालन करते हुए साहस और वीरता का प्रदर्शन किया और अपनी शहादत दी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here