तीन ऐसे खिलाड़ी जिन्हें आप दोबारा भारतीय जर्सी में ना देख पाएं

0
140
अंबाती रायडू

दोस्तों भारतीय क्रिकेट ने अपने इतिहास में बहुत सारे महान खिलाड़ी भारत को दिए हैं। कुछ खिलाड़ियों ने मिले हुए मौकों को बड़ा बनाया और लंबे समय तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से जुड़े रहे तो वहीं कुछ खिलाड़ियों ने उन मौकों को हाथ से जाने दिया और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना नाम बड़ा बनाने से चूक गए। आज हम आपको तीन ऐसे ही खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जिनका अब भारतीय टीम में खेल पाना काफी मुश्किल दिखाई देता है।

अंबाती रायडू:

अंबाती रायडू

दोस्तों अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर 6 साल कि अपने करियर में सिर्फ 55 एकदिवसीय और 6 T20 मुकाबले खेलने वाले 35 वर्षीय अंबाती रायडू कभी भी लगातार भारतीय टीम का हिस्सा नहीं रहे। अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनका करियर खत्म हो चुका है। इंग्लैंड में विश्व कप 2019 में भारतीय टीम से बाहर होने के बाद उन्होंने क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी थी। हालांकि घोषणा के 2 महीने बाद ही उन्होंने अपना निर्णय वापस ले लिया था और फिर से चयन के लिए खुद को उपलब्ध कराया था। अंबाती रायडू ने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मुकाबला मार्च 2019 में खेला था और अय्यर के लगातार नंबर पांच पर अच्छा प्रदर्शन करते हुए इस बात की संभावना कम हो जाती है कि अंबाती रायडू को अब टीम में खेलने का मौका मिले।

मुरली विजय:

मुरली विजय

दोस्तों एक समय था जब भारतीय टीम के लिए लगातार सलामी बल्लेबाज के रूप में टेस्ट क्रिकेट में खेलने वाले मुरली विजय पिछले 1 साल से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय क्रिकेट से बिल्कुल दूर रहे हैं। टेस्ट मैचों में ओपनिंग करना एक कठिन काम है। साल 2017 के बाद मुरली विजय ने दक्षिण अफ्रीका ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में 8 मैचों में मात्र 18.80 की औसत से बल्लेबाजी की इसके बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया। तब से लेकर अब तक उन्होंने एक भी टेस्ट मैच नहीं खेला है और अब टीम का भी हिस्सा नहीं है। भारतीय टीम के पास इस वक्त कई युवा सलामी बल्लेबाज हैं, जो लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। ऐसे में मुरली विजय को टीम में वापसी कर पाना काफी मुश्किल दिखाई देता है।

सुरेश रैना:

सुरेश रैना

दोस्तों साल 2005 में भारत के लिए अपना पहला मुकाबला खेलने वाले भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना साल 2015 तक छोटे प्रारूप में भारतीय टीम का लगातार हिस्सा बने हुए थे। हालांकि साल 2015 में विश्वकप के बाद उन्होंने काफी खराब प्रदर्शन किया। उन्हें लगातार खराब प्रदर्शन करने की वजह से बाहर कर दिया गया। दोस्तों सुरेश रैना टीम में वापसी करने के लिए लगातार लड़ते रहे हैं। लेकिन कभी भी लगातार सुरेश रैना टीम का हिस्सा बनने में सफल नहीं हो पाए। सुरेश रैना ने टीम में एक ऑलराउंडर की भूमिका निभाई थी। आज के समय में भारतीय टीम में कई ऑलराउंडर मौजूद हैं। ऐसे में अब सुरेश रैना की वापसी टीम में आसान नहीं हो सकती है। बीच में उन्होंने जरूर वापसी की थी लेकिन फिर भी वह टीम में पक्के तौर पर जगह नहीं बना पाए थे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here